योगी पर सोनिया का हमला, सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

सीएम रिपोर्ट कार्ड

उत्तर प्रदेश में सरकारी नौकरी की शुरुआत में पांच वर्ष की संविदा के सरकार के प्रस्ताव ने सूबे की सियासत में हलचल मचा दी है। यूं भी बेरोजगार के विषय को लगातार उठा रहे विपक्ष ने इस मुद्दे को हाथों-हाथ लपका है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने ट्वीट किया कि युवा नौकरी की मांग करते हैं और यूपी सरकार भर्तियों को पांच साल के लिए संविदा पर रखने का प्रस्ताव ला देती है। ये जले पर नमक छिड़ककर युवाओं को चुनौती दी जा रही है। गुजरात में यही फिक्स पे सिस्टम है। वर्षों सैलरी नहीं बढ़ती, परमानेंट नहीं करते। युवाओं का आत्मसम्मान नहीं छीनने देंगे। वहीं, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बयान जारी कर कहा कि देश और प्रदेश में भयंकर रूप से बढ़ती बेरोजगारी और लगातार गिरती अर्थव्यवस्था से युवाओं का भविष्य खतरे में है। ऐसे समय में प्रदेश की योगी सरकार का नई नियुक्तियों को पहले पांच वर्ष संविदा पर रखे जाने का प्रस्ताव लाया जाना छात्र-छात्राओं और युवाओं के साथ ऐतिहासिक अन्याय जैसा कृत्य है।

Leave a Reply